केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने वितरित किए गोल्डन कॉर्ड, जानिए इस योजना के बारें में

केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने वितरित किए गोल्डन कॉर्ड, जानिए इस योजना के बारें में

फरीदाबाद, 10 दिसंबर। भारत सरकार के भारी उद्योग और ऊर्जा विभाग के केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने आज शनिवार को   स्थानीय नागरिक अस्पताल बीके में  हरियाणा चिर आयु योजना के तहत  गोल्डन कार्ड वितरण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की।

केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि हरियाणा में चिर आयु स्वास्थ्य योजना गरीब  परिवारों के लिए रामबाण  साबित हो रही है। हरियाणा में स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार हो रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने वर्ष 2018 में आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की घोषणा की थी, जिसका उद्देश्य देश में जरूरतमंद व वंचितों को स्वास्थ्य सुविधाएं देना था। हरियाणा में भी एसईसीसी सूची के अनुसार पात्र लाभार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है। देश में मोदी जी और प्रदेश में मनोहर जी की सरकार है और दोनों ने हमेशा यही कहा है कि हमारी सरकार देश को समर्पित सरकार है। मोदी जी और मनोहर जी की योजना में गरीब व्यक्ति सबसे पहले आता है।

भारत सरकार के भारी उद्योग और ऊर्जा विभाग के केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि हरियाणा में चिर आयु स्वास्थ्य योजना अंत्योदय परिवारों के लिए  मील का पत्थर साबित होगी। जिला फरीदाबाद में 141000 से अधिक परिवारों के 562000 से अधिक लोगों को इसका लाभ मिलेगा। इन सभी लोगों का साल में दो बार फ्री में  स्वास्थ्य हेल्थ चेकअप किया जाएगा। जरुरत पड़ने पर इलाज भी फ्री में किया जाएगा।

पंडित दीनदयाल जी का अंतोदय का सपना कि समाज में अंतिम पायदान में खड़ा हुआ व्यक्ति का उत्थान हो वह भी आगे बढ़े उस सपने को साकार भाजपा सरकार कर रही है। जब तक समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को हम समाज की मुख्यधारा में नहीं रहेंगे तब तक भारत देश कभी भी विकसित देश नहीं बन सकता और मोदी जी देश को विकसित देश बनाना चाहते हैं दुनिया के उन देशों की श्रेणी में लाना चाहते हैं जो हमसे बहुत आगे हैं। इसलिए मुफ्त में गैस सिलेंडर करुणा काल के 2 साल में 80 करोड़ लोगों को 5 किलो अनाज पहली बार गर्भवती हुई बहनों को खुराक के लिए ₹5000 देने की बात मुफ्त में वैक्सीनेशन कराना गरीबों को अलग से 10 प्रतिशत का आरक्षण देना ऐसी अनेकों योजनाएं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों को दी है।

उन्होंने कहाकि दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ चिरायु आयुष्मान योजना स्कीम चलाई है। जिसमें गंभीर बीमारियों से गरीब व्यक्ति पैसे के अभाव में अपना जीवन ना खो दे। उसके जीवन को बचाने के लिए मोदी जी और मनोहर जी ने उन परिवारों को जिनकी आमदनी 1,80,000 से कम है उनको साल में 5,00000 का मुफ्त इलाज मिले यह भी पहली बार मोदी जी और मनोहर जी की सरकार में हो रहा है। पहले 1,20,000 की आमदनी वालों के बीपीएल कार्ड बनते थे अब मनोहर जी ने उस सीमा को बढ़ाकर 180000 कर दिया है और 1 जनवरी से 180000 से नीचे की इनकम वालों के घर बीपीएल कार्ड पहुंचेंगे। दशको  को के बाद देश को ईमानदार मजबूत गरीबों की चिंता करने वाला प्रधानमंत्री मिला है और हरियाणा में भी दशकों के बाद भ्रष्टाचार मुक्त सरकार और गरीबों की चिंता करने वाला मुख्यमंत्री मिला है। चिरायु योजना आयुष्मान कार्ड से इलाज होने से 15 दिन पहले और इलाज होने के 15 दिन बाद तक जो दवाइयों का खर्चा आता है वह भी सरकार वहन करेगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी ने फैसला किया है जिनके भी चिरायु आयुष्मान कार्ड बन रहे हैं हर  साल में उनके टेस्ट भी दो बार मुफ्त कराए जाएंगे ताकि अगर किसी को कोई बीमारी हो तो शुरू में ही उसकी रोकथाम वह व्यक्ति करा सकें ऊंचाइयों पर पहुंचना आसान है। लेकिन ऊंचाई पर बने रहना बहुत कठिन है।

विधायक सीमा त्रिखा ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज फरीदाबाद  के सबसे पुराने और सभी सुविधाओं को देने वाले सिविल अस्पताल में चिरायु योजना के तहत आयुष्मान गोल्डन कार्ड वितरण किए जा रहे हैं। जिसका लाभ समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को मिलेगा । हमारे प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज ऐसे नए परिवार की स्थापना की है जिसमे 180 हजार से कम आय के लोगों को 5 लाख तक के मुफ्त इलाज की सुविधा है। समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति की चिंता करने वाला मुख्यमंत्री शायद ही पूरे देश के किसी राज्य में होगा। हरियाणा में हमारे मुख्य मंत्री जी की बदौलत चिरायु योजना की सुविधा उन परिवारों को दी जा रही। है जिनकी आमदनी 1,80,000 से कम है। प्रदेश सरकार अंत्योदय की भावना के साथ काम करते हुए जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए उल्लेखनीय कदम बढ़ा रही हैं।

इस अवसर पर सीएमओ डॉ विनय गुप्ता, एसएमओ डॉ राजेश श्योकंद, एसएमओ डॉ राम भगत, डाक्टर सविता यादव, आयुष्मान भारत के योजना के जिला नोडल अधिकारी डॉक्टर विशाल सक्सेना सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

55

No Responses

Write a response