सफलतापूर्वक संपन्न हुआ मेला, अब नवंबर में एक हफ्ते के लिए फिर लगेगा सूरजकुंड मेला

सफलतापूर्वक संपन्न हुआ मेला, अब नवंबर में एक हफ्ते के लिए फिर लगेगा सूरजकुंड मेला

सूरजकुंड (फरीदाबाद), 19 फरवरी। हरियाणा पर्यटन निगम के चेयरमैन डा. अरविंद यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण को आगे बढ़ाते हुए हरियाणा सरकार इस बार 3 से 10 नवंबर तक सूरजकुंड दीपावली मेला का आयोजन करवाएगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की परिकल्पना के अनुसार दीपावली मेला को भी इसी प्रकार योजनाबद्ध तरीके से आयोजित करवाया जाएगा। यादव आज सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय हस्तशिल्प मेला के  सफलतापूर्वक संपन्न होने पर राजहंस होटल में प्रेस कांफ्रेंस में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि सूरजकुंड दीपावली मेला में स्वदेशी शिल्प व कला को बढ़ावा मिलेगा। यह मेला स्वदेशी उत्पाद पर आधारित होगा तथा वोकल फोर लोकल की सार्थकता को सिद्ध करेगा। दीपावली के आस-पास बाजारों में चाइनीज सामान की बाढ आ जाती है। हमारा प्रयास रहेगा कि इस बार दीपावली पर स्वदेशी उत्पाद विदेशी  उत्पादों पर भारी पड़े। इसमें हरियाणा सरकार के एक जिला एक उत्पाद योजना पर भी फोकस किया जाएगा।

सूरजकुंड अंतर्राष्ट्रीय हस्तशिल्प मेले के संबंध में उन्होंने कहा कि इस बार मेले ने सबसे विराट रूप लिया है।  इसे सफल बनाने में हरियाणा सरकार के सभी अधिकारी, जिला प्रशासन, मेला प्रबंधन, पर्यटन विभाग तथा पुलिस विभाग का बड़ा योगदान रहा है। कला और संस्कृति विभाग ने भारत भर के लोक कलाकारों को छोटी व बड़ी चौपाल पर जगह देकर बहुरूप दर्शन तस्वीर पेश की है। उन्होंने कहा कि इस मेले से पहली बार दुनिया को एक बड़ा संदेश गया है। यह हमारे लिए गर्व और गौरव की बात है कि इस बार पार्टनर देशों के रूप में शंघाई के 25 सदस्य देशों ने हिस्सा लिया। वहीं जी-20 देश के मेहमानों का मेला स्थल पर आगमन व भ्रमण तथा इसे दुनिया का सबसे बड़ा मेला बताना हमारे लिए बड़ी उपलब्धि है।

यादव ने कहा कि मेले में पहली बार ऑनलाइन पार्किंग का उपयोग किया गया। यह बहुत ही सफल प्रयोग रहा। भविष्य में इस मेले को और अधिक तकनीकी के साथ जोडऩे के प्रयास रहेंगे। पूरे मेले के दौरान 30 फीसदी टिकटें ऑनलाइन बिकी। यह भी एक सकारात्मक संदेश है। चेयरमैन ने कहा कि यह हरियाणा सरकार के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है कि हर रोज लगभग एक लाख पर्यटकों को बहुत ही योजनाबद्ध व व्यवस्थित तरीके से मेले में भ्रमण का मौका मिला। 

मेले में आगंतुकों को विभिन्न प्रकार की कला, शिल्प, व्यंजन व सांस्कृतिक कार्यक्रमों से रूबरू होने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि पूरा मेला अवधि के दौरान स्कूली विद्यार्थियों के लिए आयोजित की गई प्रतियोगिताओं में अभूतपूर्व संख्या में स्कूली विद्यार्थियों ने पूरे उत्साह व ऊर्जा के साथ भाग लिया। वहीं सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए मेला मैदान में नाइट विजन कैमरों के साथ 100 से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। इन्हीं सब प्रबंध के चलते देशी-विदेशी मेहमानों ने हरियाणा सरकार की बार-बार सराहना की है। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उनके साथ पर्यटन निगम के प्रबंध निदेशक नीरज कुमार, जगदीश जांगड़ा व हरविंदर के अलावा अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

30

No Responses

Write a response