1 दर्जन पिछड़ा वर्ग से संबंधित और दिव्यांगजनों को साढ़े 8 लाख रुपये लोन दिए गए: ADC अपराजिता

1 दर्जन पिछड़ा वर्ग से संबंधित और दिव्यांगजनों को साढ़े 8 लाख रुपये लोन दिए गए: ADC अपराजिता


फरीदाबाद, 21सितम्बर। एडीसी अपराजिता ने आज मंगलवार को लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में पिछड़ा वर्ग कल्याण निगम द्वारा आयोजित ऋण वितरण कार्यक्रम में एक दर्जन पिछड़ा वर्ग से संबंधित और दिव्यांगजनों को साढ़े आठ लाख  रुपये की धनराशि के ऋण चेक वितरित किए। उन्होंने कहा कि  रोजगार चलाकर समय पर ऋण चुकाने के उपरांत दोबारा अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए और भी धनराशि का ऋण मुहैया करवाया जाएगा।

एडीसी अपराजिता ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में बेरोजगारी खत्म करने के लिए स्व रोजगार मुहैया करवाने का काम कर रही है। बेरोजगार लोग स्व रोजगार करके अपने जीवन स्तर को ऊंचा उठा कर आम जन के लिए प्रेरणा का स्रोत बन जाते हैं। आज मंगलवार को लघु सचिवालय के बैठक कक्ष 603 में पिछड़ा वर्ग कल्याण निगम द्वारा जिला में 12 लोगों को 08 लाख 50 हजार रुपये की धनराशि के ऋण चेक दिए गए। 

पिछड़ा वर्ग कल्याण निगम की जिला अधिकारी वन्दना ने कहा कि दिव्यांगता कोई अभिशाप नहीं है। यदि व्यक्ति की सोच साकारत्मक है तो उचित सोच व सच्ची लगन और कड़ी मेहनत हो तो संभव बना लेता है। उन्होंने कहा कि लक्ष्य प्राप्त करने के लिए दिव्यांगता किसी प्रकार की रुकावट नहीं है। उन्होंने अपने संबोधन में यह भी अनुरोध किया कि स्व रोजगार मुहैया करवाने के लिए ऋण लेने के लिए किसी दलाल बिचौलिए के चंगुल में न फंसे और ऋण के लिए  किसी को कोई पैसा न दें। यदि आप से कोई भी व्यक्ति ऋण दिलाने की एवज में पैसों को मांग करता है। इसकी सूचना जिला उपायुक्त कार्यालय में दे।

निगम के जिला अधिकारी  ने अपने संबोधन में कहा कि दिव्यांगजन जिस कार्य के लिए ऋण ले रहे हैं वही रोजगार कार्य क्रियान्वित करें। ऋण चेक वितरण कार्यक्रम में महिला विकास निगम के जिला प्रबंधक देशराज, एमएमएपीयुवाई के जिला समन्वयक भूदेव,सरोज देवी सहित दिव्यागजन व पिछड़ा वर्ग कल्याण निगम के कर्मचारी उपस्थित रहे।

2

No Responses

Write a response